कंप्यूटर मशीनपर चर्चा हो तो अक्सर हम हार्डवेयर शब्द के बारे में सुनते हैं. कंप्यूटरके physical parts को हार्डवेयर के नाम से जाना जाता है. जिसकी मदद से ही कंप्यूटर में किसी भी तरह के डांटा व सूचनाओं को पहुंचाया जाता है. अतः हम यह समझ सकते हैं कि हार्डवेयर के बिना कंप्यूटर का कोई अस्तित्व ही नहीं है. अगर आप कंप्यूटर के हार्डवेयर के बारे में और जानकारी पाना चाहते हैं तो आपको यह लेख Hardware की परिभाषा के बारे में जरूर पढ़ना चाहिए.

कंप्यूटर में कई अलग-अलग तरह के हार्डवेयर पार्ट्स होते हैं और आप जितना अच्छे से इन हार्डवेयर के बारे में जानेंगे आप कंप्यूटर की कार्यप्रणाली को उतना बेहतर जान पाएंगे. हार्डवेयर कंप्यूटर का वह भाग होता है जिससे यूजर्स कंप्यूटर को निर्देश दे पाता है. हार्डवेयर की परिभाषा को पढ़ने के बाद आप कंप्यूटर के हार्डवेयर भाग को भी समझ पायेंगे.

hardware ki paribhasha

हार्डवेयर क्या है उदाहरण के साथ बताएं?

हार्डवेयर, कंप्यूटर का वह भौतिक भाग है जिसकी मदद से पूरा कंप्यूटर बनता है. सरल शब्दों में आप यह समझ सकते हैं कि इस मशीन के जिस भाग को हम छू सकते हैं, वही हार्डवेयर हैं! अतः कंप्यूटर में दिखाई देने वाला स्क्रीन, कीबोर्ड, माउस, सीपीयू सभी हार्डवेयर के ही उदाहरण है.

हार्डवेयर कंप्यूटर का एक बहुत ही जरूरी हिस्सा है. अगर हार्डवेयर नहीं हो तो कंप्यूटर का कोई वजूद नहीं होगा और वो काम ही नहीं कर सकता है. हार्डवेयर के द्वारा यूजर ना सिर्फ कंप्यूटर में सूचना डालता है बल्कि सूचना के रिजल्ट भी प्राप्त करता है.

हार्डवेयर क्या है? यह जाने के बाद आपको हार्डवेयर से जुड़ी और भी कई सारी चीजें जानने की जरूरत है. इसलिए पोस्ट को ऐसे ही आगे बढ़ते रहिए.

इंटरनल और एक्सटर्नल हार्डवेयर के उदाहरण क्या है?

Internal Hardware

कंप्यूटर के अंदर मौजूद वह भाग जो कंप्यूटर को run करने में मदद करते हैं, उसे Internal Hardware कहते हैं. CPU यानि central processing unit, Drive जैसे Blu-ray, CD-ROM, DVD, floppy drive, hard drive, SSD, Sound card, Video card इंटरनल हार्डवेयर की उदाहरण है.

External Hardware

वह हार्डवेयर जिसे हम कंप्यूटर में देखते हैं या जिस पर हम काम करते हैं, उसे कंप्यूटर का External Hardware कहते हैं. External Hardware के उदाहरण है – Flat-panel, monitor or LCD, Gamepad, Joystick, Keyboard, Microphone, Mouse, Printer, Projector, Scanner,
Speakers, USB thumb drive.

कोई भी कंप्यूटर इन्हीं एक्सटर्नल और इंटरनल हार्डवेयर से मिलकर बना होता है. यह एक्सटर्नल और इंटरनेट डिवाइस एक साथ मिलकर उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए निर्देश को पूरा करते हैं. यहाँ हार्डवेयर के प्रकार बिस्तार से बताया गया है.

कंप्यूटर हार्डवेयर के नाम

ऊपर हमने आपको कंप्यूटर के सभी हार्डवेयर पार्ट्स के बारे में बता दिया लेकिन जरूरी नहीं है कि हर कंप्यूटर में यह सभी हार्डवेयर पार्ट्स मौजूद हो, क्योंकि कुछ कंप्यूटर में इनमें से कुछ पार्ट्स मौजूद नहीं होते है. इसीलिए आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ ऐसे हार्डवेयर पार्ट्स होते हैं! जो आपको हर कंप्यूटर में देखने को मिलेंगे. इन Common computer hardware के नाम को नीचे बताया गया है.

1. कंप्यूटर प्रोसेसर यानी कि CPU.

2. कंप्यूटर का शरीर यानि Motherboard. इसके अंतर्गत integrated video card, sound card और network card शामिल रहते हैं.

3. एक या एक से अधिक पंखे जिसकी मदद से कंप्यूटर की गर्मी बाहर निकलती है.

4. विशेष कंप्यूटर, या यूं कहें कि गेमिंग कंप्यूटर में अलग से भी video card को यूज किया जाता है.

इन सभी जरूरी हार्डवेयर पार्ट्स के अलावा आपको हर कंप्यूटर में यह सभी चीजें देखने को मिलेंगी – RAM, Hard drive, Power supply, Cables ( जिसकी मदद से कंप्यूटर को अन्य डिवाइस से जोड़ा जाता है), Keyboard, Mouse or laptop का touchpad, Flat-panel, monitor और laptop का LCD इत्यादि कंप्यूटर के हार्डवेयर में शामिल है.

इन सभी कॉमन हार्डवेयर पार्ट्स ना हो तो कंप्यूटर सिर्फ एक बेजान मशीन है.

हार्डवेयर को अपग्रेड कैसे करे?

कंप्यूटर का हार्डवेयर अगर यूज करते करते खराब हो गया है या फिर पुराना हो गया है, तो उसे आसानी से Upgrade किया जा सकता है. वैसे तो कंप्यूटर के ज्यादातर एक्सटर्नल और इंटरनल हार्डवेयर को रिप्लेस किया जाता है. जैसे मदरबोर्ड, कीबोर्ड, माउस के खराब हो जाने पर या फिर सही से काम नहीं करने पर उन्हें बदला जाता है.

लेकिन वही कंप्यूटर के अंदर काम कर रही इंटरनल हार्डवेयर जिसे RAM के नाम से जानते हैं उसे upgrade किया जा सकता है. RAM को अपग्रेड करके कंप्यूटर के मेमोरी को बढ़ाया जा सकता है. अपने कंप्यूटर को पहले से ज्यादा उपयोगी और पावरफुल बनाने के लिए आप अपने कंप्यूटर के video card को भी अपग्रेड कर सकते हैं. कंप्यूटर का video card अपग्रेड RAM की तरह नहीं होता है. वीडियो कार्ड को अपग्रेड करने के लिए पुराने वीडियो कार्ड को निकाल कर उसके जगह नए वीडियो कार्ड को डाल दिया जाता है. इस तरह से वीडियो कार्ड अपग्रेड होकर कंप्यूटर को और पावरफुल बना देता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि डेक्सटॉप कंप्यूटर के Hardware को भी अलग से अपग्रेड और चेंज किया जा सकता है. क्योंकि लैपटॉप में सभी हार्डवेयर इनबिल्ट आते हैं और लैपटॉप में हार्डवेयर को अपग्रेड करना बहुत ज्यादा महंगा पड़ जाता है.

हार्डवेयर कैसे खरीदें?

अगर आप नया नया कंप्यूटर खरीदते हैं तो आप या तो कंप्यूटर के सभी पार्ट्स एक जगह से ले सकते हैं. या फिर इसके हार्डवेयर्स को अलग-अलग जगह से खरीद कर आप अपनी थोड़ी बचत कर सकते हैं. कंप्यूटर के हार्डवेयर पार्ट्स को खरीदना बहुत आसान होता है.

आप कंप्यूटर के हार्डवेयर पार्ट्स को किसी कंप्यूटर रिपेयरिंग शॉप या फिर कंप्यूटर हार्डवेयर रीटेलिंग शॉप से खरीद सकते हैं. आजकल तो चीजें ऑनलाइन हो चुकी है तो आप ऑनलाइन जाकर भी कंप्यूटर के जरूरी हार्डवेयर पार्ट्स को खरीद सकते हैं.

निष्कर्ष

तो दोस्तों हमारे इस लेख को पढ़ने के बाद अब आप समझ गए होंगे कि हार्डवेयर की परिभाषा क्या है. इस पोस्ट में बताई गई जानकारी अगर आपको पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर कीजिए. इस तरह के बेहतरीन आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग से जुड़े रहिए.

Previous articleहार्डवेयर क्या है?
Next articleहार्डवेयर और सॉफ्टवेर में अंतर
में एक कंप्यूटर टीचर हूँ और कंप्यूटर साइंस में मास्टर डिग्री किया हुआ है. मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित चीजें बहुत ही दिलचस्प लगता है. इसी कंप्यूटर एडिशन ब्लॉग के जरिये में कंप्यूटर कोर्स को सरल तरीको से समझाने की कोसिस करती हूँ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here