uddeshya ke aadhar par computer ke prakar

मानवीय आवश्यकताओं के अनुसार मार्केट में अलग-अलग कंप्यूटर लॉन्च किए गए हैं और आज हम इस लेख में उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर के प्रकार? की जानकारी आपके साथ सांझा कर सकते है.

उद्देश्य के लिहाज से देखें तो कंप्यूटर या तो General Purpose के लिए होते हैं या फिर Specific Purpose के लिए होते हैं.

General पर्पस के कंप्यूटर एक साथ कई सारे Tasks करने में सक्षम होते हैं. लेकिन इनकी Speed और एफिशिएंसी आमतौर पर कम होती है.

वहीं दूसरी तरफ किसी खास उद्देश्य के लिए बनाए गए स्पेसिफिक कंप्यूटर किसी Specific Problem को Solve करने का काम करते हैं तो ऐसे कंप्यूटर सिर्फ कुछ specific tasks कर पाते हैं.

तो आइए जानते हैं एक-एक करके उद्देश्य के आधार पर बनाए गए, इन सभी कंप्यूटर्स के बारे में.

उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

पिछले लेख में हमने आपको अनुप्रयोग के आधार पर कंप्यूटर के प्रकार की जानकारी दिया था. तो चलिए जानते है उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर का वर्गीकरण.

1. एनालॉग कंप्यूटर

analog computer hindi

एनालॉग कंप्यूटर, कंप्यूटर का वह प्रकार है जिसमें डेटा प्रोसेस तथा Show होने वाला डाटा लगातार परिवर्तनीय होता है. Analog कंप्यूटर पर हम जो डाटा देखते हैं वह हमेशा change होता रहता है.

इन कंप्यूटर्स का उपयोग अधिकतर scientific Data, industrial application में होता है. यह कंप्यूटर Quantity को मापकर arithmetic ऑपरेशन करते हैं.

Telephone lines, Speedometer, resistance of Capsitor यह सभी Analog कंप्यूटर के प्रकार है.

2. डिजिटल कंप्यूटर

digital computer hindi

एक ऐसा कंप्यूटर जो किसी जानकारी को प्रोसेस करने में सहायता करता है, वह एक डिजिटल कंप्यूटर है. ऐसे computers में जब यूजर कोई इनपुट प्राप्त करता है, तो उसे शीघ्र उसका Output प्राप्त हो जाता है. ऐसे कंप्यूटर्स के मुख्य प्रकार हैं पर्सनल कंप्यूटर, desktops, laptops smartphones इत्यादि.

21वीं सदी में अपने निजी तथा कमर्शियल उपयोग के लिए मनुष्य द्वारा डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर सर्वाधिक उपयोग में लाए जा रहे हैं.

3. हाइब्रिड कंप्यूटर

hybrid computer hindi

जब digital computer तथा Analog computer को यदि आपस में Combine कर दिया जाए तो एक Hybrid कंप्यूटर का निर्माण होता है.

Hybrid computers का इस्तेमाल आज बड़ी बड़ी टेक्निकल तथा लॉजिकल कैलकुलेशंस को करने हेतु किया जाता है. इनका सबसे अच्छा गुण है Speed, इनका सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इन्हें ऑपरेट करने के लिए कई सारे नेटवर्क hubs तथा केबल्स का इस्तेमाल होता है.

Thermometer, speedometer यह सभी हाइब्रिड कंप्यूटर्स के ही प्रकार है.

4. सुपर कंप्यूटर

super computer in hindi

कंप्यूटर का यह प्रकार एक्सट्रीमली पावरफुल होता है यह कंप्यूटर उच्च परफारमेंस प्रदान करते हैं. ऐसे कंप्यूटर्स का इस्तेमाल दैनिक उपयोग के लिए नहीं किया जाता.

इन्हें scientific, data engineering पर्पस के लिए उपयोग किया जाता है. क्योंकि वहां ऐसे high speed computersकी आवश्यकता होती है. यह कंप्यूटर काफी महंगे होते हैं जिनका इस्तेमाल भी काफी लिमिटेड परंतु उपयोगी होता है.

5. मेनफ़्रेम कंप्यूटर

mainframe computer in hindi

Mainframe computers को big iron computer के नाम से भी जाना जाता है. इन कंप्यूटर्स का साइज अधिक होने के कारण इन उपयोग आमतौर पर कम देखा जाता है.

लेकिन आज भी कई सारी इंटरप्राइजेज, बैंक ऑपरेशंस को करने के लिए मेनफ्रेम कंप्यूटर को इस्तेमाल में लाती है.

कई सारे Tasks को एक बारी में बिना रुकावट करने के लिए एक Mainframe सिस्टम की आवश्यकता पड़ती है और मेनफ्रेम कंप्यूटर बैंक्स कि इन आवश्यकताओं को पूरा करता है.

इस प्रकार के कंप्यूटर को हेवी पावर की आवश्यकता पड़ती है. लेकिन किसी भी एप्लीकेशन को Run करने तथा डाटा को प्रोसेस करने की इनकी क्षमता काफी Fast होती है.

6. मिनी कंप्यूटर

mini computer in hindi

कंप्यूटर्स की श्रेणी में एक कंप्यूटर का नाम है Mini कंप्यूटर जिनका निर्माण 1960 के दशक मैं शुरू हुआ. इस प्रकार के कंप्यूटर्स का दाम तथा परफॉर्मेंस किसी भी मेनफ्रेम या सुपर कंप्यूटर की तुलना में कम होता है.

Minicomputers के पास बड़े कंप्यूटर्स की तरह ही वे सारे फीचर्स होते हैं, बस इन का साइज छोटा होता है. इन कंप्यूटर्स को मल्टीप्ल यूजर्स पर्सनल कार्यों के लिए इस्तेमाल में लाते हैं.

Minicomputer को mid range computers भी कहा जाता है. IBM’s AS/400e, Honeywell200, TI-990. जैसे कुछ mini computers के उदाहरण है.

7. पर्सनल कंप्यूटर

personal computer in hindi

इस प्रकार के कंप्यूटर को microcomputers कहा जाता है. 21वी सदी में अधिकतर लोगों के पास personal computers हैं, ऐसे कंप्यूटर्स की कीमत साइज तथा फीचर्स के कारण अधिकतर लोग ऐसे कंप्यूटर को खरीदना पसंद करते हैं.

इन कंप्यूटर्स को बनाने के लिए माइक्रो प्रोसेसर का इस्तेमाल किया जाता है इसलिए इन का साइज छोटा होता है. Windows OS पर चलने वाले कंप्यूटर, पर्सनल कंप्यूटर का एक मुख्य उदाहरण है.

यही नहीं यहां तक कि हमारी जेब में फिट होने वाला एंड्रॉयड स्मार्टफोन भी पर्सनल कंप्यूटर का ही एक प्रकार है. जो एक कंप्यूटर की ही भांति कई सारे Tasks को करने में सक्षम होता है.

संक्षेप में कहा जाए तो कंप्यूटर्स का यह प्रकार लोगों के बीच सबसे अधिक प्रसिद्ध है यह कहना गलत नहीं होगा कई लोगों के लिए कंप्यूटर का मतलब सिर्फ पर्सनल कंप्यूटर ही होता है.

8. वर्क स्टेशन कंप्यूटर

workstation computer in hindi

Workstation computer भी desktop की फैमिली का ही एक प्रकार है. जिनका उपयोग अधिकतर analysts, designers, content creation professionals, developers द्वारा किया जाता है.

यह कंप्यूटर्स हाई परफॉर्मेंस के लिए जाने जाते हैं, इसलिए इनका इस्तेमाल High end ग्राफिक्स, वीडियो एडिटिंग इत्यादि के लिए होता है.

एक पर्सनल कंप्यूटर जहां Mails करने डाक्यूमेंट्स बनाने तथा Games इत्यादि खेलने के लिए परफेक्ट होता है. वही एक Workstation स्टेशन कंप्यूटर को पावर की काफी जरूरत पड़ती है.

इसलिए यह हेवी टास्क जैसे CAD, animation, data analysis, and photorealistic renderings, करने में सक्षम होता है.

तो साथियों इस प्रकार आपने जाना कि किस किस उद्देश्य के लिए कौन कौन से कंप्यूटर को बनाया गया है? उम्मीद है अब आपका कंप्यूटर मशीन के बारे में ज्ञान इस लेख को पढ़ने के बाद और बढ़ चुका होगा.

निष्कर्ष

हमें आशा है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटर के प्रकार आप जान चुके होंगे. अगर आपको आज की यह पोस्ट पसंद आई है ,इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर कर दूसरों तक पहुंचाना ना भूलें.

Previous articleपर्सनल कंप्यूटर के प्रकार
Next articleकंप्यूटर के बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर
में एक कंप्यूटर टीचर हूँ और कंप्यूटर साइंस में मास्टर डिग्री किया हुआ है. मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित चीजें बहुत ही दिलचस्प लगता है. इसी कंप्यूटर एडिशन ब्लॉग के जरिये में कंप्यूटर कोर्स को सरल तरीको से समझाने की कोसिस करती हूँ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here